close

दाहिनी पलक का फड़कना | बाई पलक का फड़कना | बाई आंख की ऊपरी पलक का फड़कना | दाई आंख के ऊपर की पलक फड़कना

आज हम पलक फड़कने के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करने वाले हैं। क्योंकि कभी ना कभी सभी व्यक्तियों का पलक फड़कना ही है। इसलिए इसके बारे में जानकारी होना अनिवार्य है। क्योंकि ज्योतिष शास्त्र में अंगों के फड़कने का अर्थ दिया गया है। जोकि भविष्य में होने वाले घटनाओं को दर्शाता है।

इसलिए यहां पर हमने सभी अंगों के फड़कने के बारे में विस्तृत जानकारी दिया हुआ है। अगर आप अंगों पर तिल होने के बारे में भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं। तो उसे भी प्राप्त कर सकते हैं। क्योंकि यहां पर सभी अंगों पर तिल होने के बारे में भी जानकारी दिया गया है।

आज हम केवल पलक फड़कने के बारे में जानकारी प्राप्त करने वाले हैं। क्योंकि हमने एक-एक अंग के बारे में विस्तृत जानकारी दिया हुआ है। इसलिए उसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए। पलक फड़कने के बारे में भी जानकारी देने जा रहे हैं। जिससे आपको सभी अंगों के बारे में विस्तृत ज्ञान प्राप्त हो सकेगा।

पलक का फड़कना

अगर किसी व्यक्ति के पलक फड़कता है। तो यह पलक का फड़कना शुभ और अशुभ दोनों प्रकार का फल देने वाला होता है। क्योंकि पलक फड़कने के भी कई प्रकार होते हैं। जैसे – दाहिनी पलक का फड़कना, बाई पलक का फड़कना, पलक के ऊपर फड़कना, पलक के नीचे फड़कना आदि बातों पर निर्भर करता है।

हालांकि स्त्री के दाहिने अंग का फड़कना शुभ माना गया है। जबकि पुरुष के दाहिने अंग का फड़कना शुभ माना गया है। तो ही स्त्री के बाएं अंग के फड़कने को शुभ माना गया है। तो पुरुष के बाएं अंग के फड़कने को अशुभ माना गया है। इसलिए यहां पर हमने पुरुष के अंग की बात कर रहे हैं। इसे आप इस तरीके अंग को भी समझे। जैसे पुरुष के दाहिने अंग के फड़कने का फल को स्त्री के बाएं अंग का फल समझना चाहिए।

दाहिनी पलक का फड़कना

अगर किसी पुरुष का दाहिनी पलक फड़कना है। तो यह शुभ संकेत माना जाता है। इसका अर्थ होता है, कि आपके सभी कार्य बनने वाले हैं। अगर आप किसी कार्य को लेकर काफी दिनों से पूरा करने की कोशिश कर रहे हैं। तो वह कार्य अब बहुत जल्द पूरा होने वाला है। जिससे आपको खुशियां भी मिलने वाली है।

दाहिनी आंख की ऊपरी पलक का फड़कना

अगर किसी व्यक्ति के दाहिने आंख के ऊपरी पलक फड़क रहा है। तो इसे शुभ माना जाता है। क्योंकि दाहिनी आंख के ऊपर की पलक फड़कने से शुभ समाचार प्राप्त होता है।

दाहिनी आंख की निचली पलक का फड़कना

अगर किसी व्यक्ति दाहिनी आंख के नीचे की पलक खड़क रहा है। तो यहां पर आपको थोड़ा सावधान रहने की आवश्यकता है। क्योंकि कुछ आपके साथ अनहोनी हो सकती हैं। लेकिन इसके बावजूद भी देखा गया है। कि दाहिनी आंख के नीचे का फड़कना प्रिय मिलन का संकेत देता है। जो आपके लिए शुभ है।

बाई पलक का फड़कना

अगर किसी व्यक्ति के बाई फलक फलक रहा है। तो यह शुभ नहीं माना जाता है। क्योंकि यह किसी ने किसी घटना को दर्शाता है। इसलिए बाई आंख फड़कने से आपको सावधान रहने की आवश्यकता है।

बाई आंख के ऊपर पलक का फड़कना

अगर कोई व्यक्ति के बाई आंख के ऊपर का पलक फड़क रहा है। तो यह शुभ नहीं माना जाता है। क्योंकि भाई आपके ऊपर का फड़कना शत्रु पैदा करता है। शत्रु से आपका झगड़ा हो सकता है।

बाई आंख के निचले पलक का फड़कना

अगर किसी व्यक्ति की बाई आंख के नीचे की पलक फड़कना है। तो यह शुभ संकेत माना जाता है। क्योंकि बाई आंख की निचली पलक का फड़कना शुभ समाचार प्राप्ति की ओर संकेत देता है।

      You cannot copy content of this page

      Mangal Muhurt
      Logo