close

शमी का पेड़ की पहचान | असली शमी की पहचान कैसे करें | Sami ka paudha | Shami Plant

आज हम एक चमत्कारी पौधे के बारे में जानेगे। जो कि हर घर में लगाया जाना चाहिए। जी हां आज हम शमी के पौधे के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे। इसमें हम जानेंगे, कि आप असली शमी की पहचान कैसे कर सकते हैं? क्योंकि शमी के पौधे के नाम पर नकली शमी का पौधा भी मिल जाता है। जिसको लगाने से कोई लाभ नहीं मिलता है। क्योंकि शमी का पौधा एक चमत्कारी पौधा है। जो अनेकों सकारात्मक ऊर्जा को प्रदान करने वाला होता है।

इसलिए असली शमी पौधा ही लगाना चाहिए। अगर आप भी जानना चाहते हैं, कि असली शमी की पहचान कैसे करें? तो यह जानकारी आपके लिए है। हालांकि मैंने शमी के पौधे के बारे में पहले से ही जानकारी प्रदान किया हूं। जिसको आप पढ़ सकते हैं। आज हम केवल यहां पर असली शम्मी की पहचान कैसे करते हैं। इसके बारे में ही जानेंगे।

असली शमी का पेड़ की पहचान कैसे करे?

असली शमी के पेड़ की पहचान करना बेहद आसान है। क्योंकि यह एक मध्य आकार का पेड़ होता है। जिसमें सफेद और कुछ भूरे रंग की शाखाएं होती हैं। तथा सफेद रंग का छाल छोड़ता है। शाखाओं में पेपर जैसी पपड़ी या पड़ी रहती हैं। कुछ चीरा भी लगा रहता है। अर्थात मोटी डांगी फटी फटी सी दिखती है।

असली शम्मी का फूल बहुत ही धीमी गति से बढ़ता है। जो कि हल्का पीला और सफेद रंग का होता है। असली शमी का फल त्रिकोण आकार का सपाट होता है। जिसमें एक पतली सी डहगी लगा होता है।

असली शम्मी का पता भी काफी पतला पतला होता है। जोकि एक डंठल के अंदर अनेकों पत्ते होते हैं। जैसे इमली या बबूल के पत्ते होते हैं। उससे भी पतला असली शम्मी का पौधा का पता होता है।

असली शमी का पौधा ज्यादातर नई डांगी पत्तों की जड़ से ही लेता है। एक डांगी में अनेकों पत्ते होते हैं। जिससे वहां डंठल गांठ जैसा दिखने लगता है। और वहीं से नई डांगी निकलती है। कभी-कभी सूखी हुई डांगी को छूने पर कांटा चुभे जैसा एहसास होता है।

इस तरह आप असली शमी का पौधा और नकली शमी के पौधे में फर्क कर सकते हैं। अब आप असली शमी का पौधा पहचानने के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे। अगर आप और शमी के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो यहां पर पढ़ सकते हैं।

https://youtu.be/5jHllkA1j3w

      You cannot copy content of this page

      Mangal Muhurt
      Logo